क्रिकेट खबरें

मैदान पर फैसले लेने की कला मैंने धोनी से सीखी है – कोहली

i learn the captaincy from dhoni

दो साल पहले भारतीय टेस्ट टीम की कमान सँभालने वाले कप्तान विराट कोहली का कप्तानी करियर अब तक बहुत शानदार रहा है उनकी कप्तानी में भारत ने अब तक 16 टेस्ट खेले जिसमे भारत ने 9 टेस्ट जीते और 2 मैच हारे और पांच टेस्ट ड्रा रहे |

कोहली का मानना है की एक सफल कप्तान की कुंजी अपने द्वारा लिए गए साहसिक फैसले और नतीजे की परवाह किये बिना उनका समर्थन करने में होती है |

यहाँ भी पढ़े : विराट ने दिए संकेत गंभीर खेलेंगे तीसरा टेस्ट मैच

कोहली महेंद्र सिंह धोनी के कप्तानी के बहुत बड़े कायल हैं उन्होंने कहा मैं धोनी की कप्तानी में खेला हूँ और मैंने उनसे काफी कुछ सीखा है मैं खुद को उनकी तरह कप्तानी करते हुए देखना चाहता हूँ |

यहाँ भी पढ़े : धोनी ने खोल राज क्योँ खुद को रणजी मैच से रखा दूर

यहाँ भी पढ़े : ब्रेकिंग न्यूज़ : फिर से टूटा विराट और अनुष्का का रिश्ता नहीं हो पायेगी दोनों की शादी

उन्होंने कहा कई बार मैच में फैसले लेना काफी कठिन हो जाता है और इसके लिए आपको हिम्मत चाहिए होती है जब भी फैसला लिया जाता है तो अब वो गलत है या सही हमें उसी फैसले पर आगे बढ़कर डटे रहने के लिए साहस की जरुरत होती है जो एक सफल कप्तान की निशानी होती है और ये सब मैंने धोनी से सीखा है |

यहाँ भी पढ़े : धोनी द अनटोल्ड स्टोरी की सात बड़ी गलतियां क्या आपने गौर किया

कोहली ने आगे कहा अपने देश की टेस्ट टीम का कप्तान होना अपने आप में एक गर्व की बात होती है और मेरे लिए इससे बढ़कर कोई और बात नहीं मुझे खुस्शी है की मैं इस लायक बना कप्तानी के इस अतिरिक्त जिम्मेदारी से मैं एक जिम्मेदार खिलाडी बन गया हूँ उन्होंने ये भी कहा की सफ़ेद कपडे पहनकर मैदान में उतारना गर्व की बात होती है क्योँकि टेस्ट क्रिकेट ही एक ऐसा फॉर्मेट होता है जहाँ किसी भी क्रिकेटर की असली परीछा होती है |

यहाँ भी पढ़े : तो क्या ख़तम हो जायेगा युवराज और गौतम का करियर

कोहली की कप्तानी में भारत फिर से नंबर 1 की टीम बानी है और उनका कहना है हम इस लय को बरकरार रखना चाहते हैं और टीम के बाकी खिलाड़ियों का भी यही लक्ष्य है |

2 Comments

Most Popular on Cricmantra

To Top